Friday, 2 September 2016

जियो के भ्रम जाल में

अम्बानी की डेटागिरी या जादूगिरी
लेखक- डॉ. नीरज मील 
       
"ये तय है कि रिलायंस का जादू एक बार फिर से सर पे चढ़ कर बोलेगा क्योंकि रिलायंस सेल्स की पिरामिड अवधारणा के साथ- साथ मनोवैज्ञानिक प्रभाव का भी बड़े स्तर पर प्रयोग कर रही है। शायद ये थ्योरी तीन पति अर्थात् जुए की ट्रिक से ज्यादा प्रेरित वैज्ञानिक प्रणाली है।"